नज़र चाहती है दीदार करना,
दिल चाहता है प्यार करना,
क्या बताएं इस दिलका आलम,
नसीब मैं लिखा है इंतज़ार करना..

मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते है
जागती आँखों में भी कुछ ख्वाब होते है
ज़रूरी नही है कि गम में ही आँसू निकले
मुस्कुराती आँखों में भी सैलाब होते हैं

महक सी जाती हो रातों में
जब तूम ख़्वाब बनकर समाती हो
यादों की तस्वीर दिल में उतर जाती हैं
जब तुम रूबरू सामने आती हो

ऐ चाँद तू भूल जायेगा अपने आपको
जब सुनेगा दास्तान मेरे प्यार की
क्या तू करता है गुरुर अपने आप पे इतना
तू तो सिर्फ परछाई है मेरे प्यार की

इक झलक जो मुझे आज तेरी मिल गयी, मुझे फिर से आज जीने की वजह मिल गयी

Hope in love

कहतें हैं कि मोहबत एक बार होती है, पर मैं जब जब उसे देखता हूँ, मुझे हर बार होती है॥

True love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here