Freindship Shayri in Hindi/ हिन्दी में दोस्ती शायरी

0
6

Friendship Shayri

Friendship shayari in Hindi with image, Freindship shayari for Whatsapp, Freindship shayari with font of English. In this post we are Giving every kind of Friendship shayari For Your Friends and Partner.

Friendship is a very precious thing in the world. Its value can not be assessed. It is also depends to take a good hand in life and have a hand on a bad road and that is why it is very difficult to judge the good and bad friends. Friends are very much contributing to the career of life.

We have presented Best Freindship Shayari in this post. Which you will not find on any other platform. Freindship is the unimaginable thing of life. Without which the life is half. There is a very big definition of freind in the world. Only true friends can understand this definition. you can show your the love of your Facebook and Whatsapp and other social mate with this Freindship shayari.

Friendship shayari For Love

वादा तो नहीं करते कि दोस्ती निभाएंगे ,

कोशिश यही रहेगी कि आपको न सताएँगे ,

ज़रूरत पड़ी तो ‘ दिल से पुकारना ,

जहाँ भी होंगे , चले आएँगे ।


शाम-ए-महेफिल!
चलो कुछ पुराने दोस्तों के, 👬
दरवाज़े खटखटाते हैं,
देखते हैं उनके पँख थक चुके है,
या अभी भी फड़फड़ाते हैं,
हँसते हैं खिलखिलाकर,
या होंठ बंद कर मुस्कुराते हैं,
वो बता देतें हैं सारी आपबीती,
या सिर्फ सफलताएं सुनाते हैं,
हमारा चेहरा देख वो,
अपनेपन से मुस्कुराते हैं,
या घड़ी की और देखकर,
हमें जाने का वक़्त बताते हैं,
चलो कुछ पुराने दोस्तों के,
दरवाज़े खटखटाते हैं !


दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे|

देखी जो नब्ज मेरी,
हँस कर बोला वो हकीम,
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ..
तेरे हर मर्ज की दवा वही है ..

सारे दोस्त काम के, सबका अपना रोल
जो संकट में साथ दे, वो है सबसे अनमोल

कोई दोस्त पुराना नहीं होता ,
कुछ दिन बात ना करने से कोई बेगाना नहीं होता,
दोस्ती में दूरी तो आती रहती है पर दूरी का मतलब भुलाना नहीं होता

अक्सर दोस्ती करने वाले,
अपने दोस्त की तारीफ करते रहते हैं
ताकि वो उनसे जुदा न हो जाये.
हम इसलिए खामोश रहते हैं,
ताकि उन पर कोई और फ़िदा न हो जाये.

कौन कहता है कि
दोस्ती बराबरी में होती है सच तो ये है
दोस्ती में सब बराबर होते है

करनी है खुदा से गुजारिश कि,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले.
हर जन्म में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले

छोटे से दिल में गम बहुत है,
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं,
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें,
कमबख़्त दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here